दुनिया की सबसे अजीबोगरीब वसीयत करने वाला आदमी

बात सन 1926 की है जब चार्ल्स मिलर नाम का एक अविवाहित और निसंतान वकील बड़ी अजीबोगरीब वसीयत छोडकर मर गया। उसने अपनी वसीयत में लिखा कि उसकी संपत्ति का एक बड़ा भाग शहर की उस महिला को दे दिया जाये तो उसकी मौत के अगले 10 साल में सबसे ज्यादा बच्चे पैदा करके दिखाये। 

इसके बाद बच्चे पैदा करने की जो होड़ शुरू हुई उसे कनाडा के इतिहास में The Great Stork Derby of Toronto के नाम से जाना जाता है। 

1854 में जन्मे Charles Vance Millar अपनी मौत होने तक कोई बहुत बड़ी नामचीन हस्ती नहीं थे, हालांकि मज़ाकिया स्वभाव  ने शादी नहीं की थी और नतीजतन उनके कोई अपने बच्चे भी नहीं थे। हाँ, आर्थिक रूप से काफी मजबूत थे और काफी संपत्ति छोडकर मरे थे । 

मौत से पहले चार्ल्स मिलर ने अपनी काफी मज़ाकिया वसीयत लिखी थी, जिसमें सबसे ज्यादा चर्चित क्लॉज़ था, अगले 10 सालों में सबसे ज्यादा बच्चे पैदा करने वाली महिला को अपनी संपत्ति का एक बड़ा हिस्सा देना। संपत्ति का ये हिस्सा आज के हिसाब से लगभग 10 मिलियन डॉलर के बराबर था। 

अब इतनी बड़ी रकम किसी के भी मन में लालच पैदा कर देने के लिए काफी होती है। तो टोरंटो की महिलाओं में बच्चे पैदा करने की होड़ लग गई। करीब 11 परिवार आखिर तक होड़ में डटे रहे लेकिन अवधि पूरी होने पर उनमें से केवल चार ही युगल ऐसे सामने आए जिन्होने सर्वाधिक 9 - 9 बच्चे पैदा किए। 

न्यायालय द्वारा मिलर द्वारा निर्दिष्ट संपत्ति को चारों परिवारों में बराबर बाँट दिया गया। 

इसके अलावा भी मिलर ने अपनी वसीयत में कई मज़ाकिया बातें लिखी थीं। जैसे कि अपनी एक संपत्ति को वे ऐसे तीन वकीलों के आजीवन उपभोग के लिए छोड़ गए जो आपस में एक दूसरे से शत्रु की तरह नफरत करते थे। इस संपत्ति को, जो कि, जमैका में एक holiday estate थी, न तो ये वकील बेच सकते थे, और न ही उनमें से कोई अकेला उसका उपयोग कर सकता था। शर्त के अनुसार तीनों एक साथ ही इसका उपभोग कर सकते थे।  

No comments: