Showing posts with the label Hitopadesh ki kahaniyaShow all

मित्रलाभ - हितोपदेश की कहानी | Mitralabha - A Hitopadesha Story

एक बार चित्रग्रीव नामक एक कबूतरों का सरदार अपने दल के अन्य कबूतरों के साथ आकाश में उड़ता हुआ कहीं जा रहा था. नीचे दूर दूर तक जंगल पसरा हुआ …