Showing posts with the label folk tales in hindiShow all

उल्लू की भाषा - लोक कथा | Ullu ki bhasha - Lok katha in Hindi

एक बार एक राजा था. शुरू शुरू में उसके राज्य में प्रजा बहुत सुखी थी क्योंकि वह सब तरह से एक योग्य राजा था, लेकिन समय के साथ धीरे - धीरे वह आ…


विजेता - एक लोक कथा | Vijeta - A Folk tale in Hindi

पुराने ज़माने में एक राजा था. उसकी एक बेटी थी. बड़ी ही सुन्दर. उन दिनों में जितने भी राजकुमार थे, वे लगभग सब के सब उसे अपनी रानी बनाने की चाह…


धूर्तनगरी - हिन्दी लोक कथा | Dhoortnagari - Hindi Lok Katha

किसी जमाने में घोड़ों का एक व्यापारी था. उसने इस व्यापार में बहुत धन कमाया और अपने बेटे धर्मसेन को भी यही काम सिखाया. जब वह वृद्ध हो गया तब …


गीदड़ की राजनीति - लोक कथा | A Folk story in Hindi

एक बार किसी गीदड़ ने जंगल में एक मरा हुआ हाथी देखा. उसे देखकर गीदड़ का रोम-रोम प्रसन्न हो गया. वह सोचने लगा - "यह मुझे मेरे भाग्य से मि…


राजा और बाज़ - हिन्दी लोक कथा | Raja aur Baaz - Hindi Lok Katha

बहुत पुरानी बात है. गर्मियों का मौसम था. ऐसे में एक राजा अपने दलबल सहित जंगल में शिकार के लिए निकला. राजा के साथ उसका एक पालतू बाज़ पक्षी था…


समझदार जज - टॉलस्टॉय की कहानी | Samajhdar Judge - A story by Leo Tolstoy

समझदार जज  (सुप्रसिद्ध रूसी लेखक लियो टॉलस्टॉय की एक बाल कहानी का भावानुवाद) बहुत समय पहले की बात है. अफ्रीका में एक देश है अल्जीरिया. उन …


आँखों की रोशनी - लोककथा | Ankhon ki roshani - Lok katha in Hindi

पुराने जमाने की बात है. किसी शहर में एक धनवान बुढ़िया रहती थी. उसका घर कीमती सामानों से हमेशा भरा रहता था. होनहार की बात, एक दिन बुढ़िया की आ…


चोर और राजा - हिन्दी लोककथा | Chor aur Raja - Lok Katha in Hindi

बहुत समय पहले चन्द्रपुरी नामक नगरी में सोमेश्वर नाम का एक राजा राज्य करता था. वह बड़ा न्यायी, सत्यप्रिय और प्रजा के सुख का ध्यान रखने वाला र…


राजा, तोता और अमरफल - लोक कथा | LOK KATHA IN HINDI

राजा और तोता - लोक कथा (A Folk Tale/ LOK KATHA in Hindi) बहुत समय पहले की बात है. एक राजा के तीन पुत्र थे. वह उन तीनों में से सबसे योग्य क…


दस दिनों की मोहलत

बहुत पुरानी बात है किसी राज्य में एक क्रूर राजा राज्य करता था. उसने 10 खूँखार जंगली कुत्ते पाल रखे थे जिनका इस्तेमाल वह अपराधियों और शत्रुओ…


बूढ़े की सीख (दो शिक्षाप्रद लघुकथाएं)

लघुकथा - 1 (Short Story - 1) एक गाँव के बाहर एक बूढ़ा आदमी नौजवानों को पेड़ पर चढ़ना उतरना सिखा रहा था. कई युवक पेड़ों पर चढ़ना उतरना सीख रहे थे…


चतुर बहू (लोक कथा)

किसी गांव में एक सेठ रहता था. उसका एक ही बेटा था, जो व्यापार के काम से परदेस गया हुआ था. सेठ की बहू एक दिन कुएँ पर पानी भरने गई.  घड़ा जब भ…


चोर और राजा (एक लोककथा )

किसी जमाने में एक चोर था। वह बड़ा ही चतुर था। लोगों का कहना था कि वह आदमी की आंखों का काजल तक उड़ा सकता था। एक दिन उस चोर ने सोचा कि जबतक व…