Showing posts with the label munshi prem chandShow all

कप्तान साहब - मुंशी प्रेमचंद की कहानी | KAPTAN SAHAB - A Munshi Premchand Story in Hindi

जगत सिंह को स्कूल जाना कुनैन खाने या मछली का तेल पीने से कम अप्रिय न था। वह सैलानी, आवारा, घुमक्कड़ युवक थां कभी अमरूद के बागों की ओर निकल…