इस्तीफा - मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Isteefa - A Munshi Premchand Story

दफ्तर का बाबू एक बेजबान जीव है। मजदूरों को ऑंखें दिखाओ, तो वह त्योरियॉँ बदल कर खड़ा हो जाएगा। कुली को एक डाँट बताओं, तो सिर से बोझ फेंक कर…


राजा साहब की कुतिया - आचार्य चतुरसेन शास्त्री की कहानी | Raja Saahab Ki Kutiya - A story by Acharya Chatursen Shastri

(बीसवीं सदी के सुप्रसिद्ध हिन्दी कथालेखक आचार्य चतुरसेन शास्त्री की एक लोकप्रिय कहानी) जी हाँ, हिंदुस्तान की आजादी और मेरी बरबादी एक ही साथ…


पड़ोसी - एक लोक कथा | Padosi - Ek Lok Katha

एक धनी व्यक्ति शहर के कोलाहल से बहुत उकता गया इसलिए उसने अपने रहने के लिए शहर की भीड़भाड़ से बहुत दूर एक नया मकान बनवाया। वह बहुत शांतिप्रिय …


ममता - मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Mamata - A story by Munshi Premchand

बाबू रामरक्षादास दिल्ली के एक ऐश्वर्यशाली खत्री थे, बहुत ही ठाठ-बाट से रहनेवाले। बड़े-बड़े अमीर उनके यहॉँ नित्य आते-आते थे। वे आयें हुओं क…


कंजूस का सोना - एक लोक कथा | Kanjoos ka sona - A folk tale in Hindi

किसी गाँव में एक अमीर आदमी रहता था। वह जितना अमीर था, उतना ही कंजूस भी था। अपने धन को सुरक्षित रखने का उसने एक अजीब तरीका निकाला था। उसने अ…


सबूत - एक छोटी सी लोक कथा | Saboot - A folk tale in Hindi

प्राचीन काल में मायापुरी नामक एक नगर व्यापार के लिए बहुत प्रसिद्ध था। दूर -दूर से लोग व्यापार के सिलसिले में इस नगर में आया करते थे। एक बा…


प्रैस की ताक़त - ओ हेनरी की कहानी | Power of Press - A Story by O. Henry

(सुप्रसिद्ध अमरीकी कथाकार ओ हेनरी की एक लोकप्रिय कहानी का भावानुवाद)  सुबह के आठ बजे थे। दुकान पर समाचार पत्र के ताज़ा अंक रस्सी पर लटक रहे…


क्या भला क्या बुरा - चीनी लोक कथा | Kya Bhala Kya Bura - A Chinese folk tale in Hindi

बहुत पुरानी बात है, चीन के एक गाँव में एक बूढ़ा रहता था. वह दार्शनिक स्वभाव का आदमी था और उसकी बातें अक्सर उसके गांववालों को समझ में नहीं आत…


गधे का सच - एक लोक कथा | Gadhe ka Sach - A folk tale in Hindi

बात उन दिनों की है जब जानवर भी इंसानों की तरह बोला करते थे.  किसी गाँव में रामू और दीनू नाम के दो भाई रहा करते थे. दोनों भाइयों के स्वभाव म…


मंत्र - मुंशी प्रेमचंद की कहानी | Mantra - A Short Story of Munshi Premchand

मंत्र (मुंशी प्रेमचंद की कहानी ) संध्या का समय था। डाक्टर चड्ढा गोल्फ खेलने के लिए तैयार हो रहे थे। मोटर द्वार के सामने खड़ी थी कि दो कहार …


बरगद की गवाही - एक लोक कथा | Baragad ki gawahi - Ek Lok Katha

किसी गाँव में हीरालाल नाम का एक आदमी रहता था. एक साल ओलावृष्टि होने के कारण उसकी फसल बर्बाद हो गई और वह धनाभाव से जूझने लगा. अगले साल खेती …


बुद्धिमान वन हंस - पंचतंत्र की कहानी | Buddhiman Van Hans - A Panchatantra Story

किसी वन में एक बहुत ही विशाल, ऊँचा और सघन वृक्ष था. इस वृक्ष के ऊपर कई वन-हंसों ने लम्बे समय से अपना डेरा बना रखा था. वे दिन में वन में जाक…